Sale!

अब्बू

200.00 180.00

यह कहानी है दंगा पीड़ित यतीम फरजाना की और उसके पालक पिता करतार सिंह की.

2 in stock

Description

यह कहानी है दंगा पीड़ित यतीम फरजाना की और उसके पालक पिता करतार सिंह की.

एक मुस्लिम और दूसरा हिन्दू के बीच पनपते बाप और बेटी के रिश्ते की. समाज के कुछ लोग इसे सराहते और कुछ लोग इन्हें दुत्कारते पर इनका आपस का रिश्ता दिन-ब-दिन निखरता चला गया.

तभी तो मासूम फरजाना को दुआ करते देख करतार ये कहते –

माहे रमजान में जब तेरे हाथ दुआओं के लिए ऊपर उठता होगा खुद को तेरे करीब लाने यह आसमान कुछ ना कुछ तो झुकता होगा.

Additional information

ISBN

9788170546405

Author

Asit Kumar Chaterjee

Publisher

Classical Publishing Company

Binding

Hard Cover; Pages – 80

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “अब्बू”